कॉर्बेट नेशनल पार्क में रात्रि विश्राम सुविधा 15 अक्टूबर से शुरू होगी।



कॉर्बेट नेशनल पार्क में रात्रि विश्राम सुविधा 15 अक्तूबर से शुरू होगी। इसके लिए पार्क प्रशासन ने गेस्ट हाउसों का रंगरोगन और सैलानियों की सुरक्षा के पूरे इंतजाम कर लिए हैं। हालांकि ढिकाला जोन को तय समय पर 15 नवंबर को ही पर्यटकों के लिए खोला जाएगा।

आमतौर पर कॉर्बेट पार्क हर साल 15 नवंबर को रात्रि विश्राम के लिए खुलता है, जबकि 15 अक्तूबर से बिजरानी जोन में डे विजिट शुरू हो जाती है। ढेला और झिरना जोन में पूरे साल डे विजिट रहती है।
मगर इस बार कोरोना संक्रमण के चलते 22 मार्च को पार्क बंद कर दिया था। इससे कॉर्बेट प्रशासन को करोड़ों का नुकसान हुआ है। कॉर्बेट के आसपास के पर्यटन कारोबार पर भी गहरा असर पड़ा है। इसे देखते हुए वन विभाग ने 15 अक्तूबर से बिजरानी, ढेला, झिरना में नाइट स्टे शुरू करने का निर्णय लिया है।

इस बार एक महीने पहले मिल रही सुविधा:
पार्क निदेशक राहुल ने बताया कि 15 अक्तूबर से पर्यटक रात्रि विश्राम कर सकेंगे। ढिकाला जोन को 15 नवंबर से खोलने की तैयारियां पूरी हैं। कॉर्बेट में एक माह पहले रात्रि विश्राम की व्यवस्था होने से पर्यटक खासे उत्साहित हैं।

बिजरानी जोन में बाघ देखने के अधिक उम्मीद होती है। वहां पर रात्रि विश्राम होने से पर्यटक बाघों का दीदार कर सकेंगे। बताया कि पहले दिन दिनों जोन में करीब सौ से अधिक पर्यटक रात्रि विश्राम का लुत्फ उठा सकेंगे।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.