पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा- राजनीतिक अस्थिरता की कहानी दोहरा सकती है भाजपा

पूर्व मुख्यमंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता हरीश रावत ने अंदेशा जताया कि भाजपा फिर से प्रदेश में राजनीतिक अस्थिरता की कहानी दोहरा सकती है। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में सोमवार को मीडिया से बातचीत में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आरोप लगाया कि भाजपा ने प्रदेश को राजनीतिक रूप से अस्थिर करने का काम किया है। जनता को इसे समझना होगा।

अब मुख्यमंत्री धामी पर घेरा कसने का अंदेशा:
सत्तारूढ़ भाजपा ने अपने पिछले छह साल के कार्यकाल में पहले त्रिवेंद्र सिंह रावत, फिर तीरथ सिंह रावत और फिर पुष्कर सिंह धामी के रूप में प्रयोग किया है। उन्होंने अब मुख्यमंत्री धामी पर घेरा कसने का अंदेशा जताया।
पूर्व मुख्यमंत्री व सांसद तीरथ सिंह रावत के प्रदेश में भ्रष्टाचार को लेकर साधे गए निशाने पर उन्होंने कहा कि इसका जवाब भाजपा को ही देना चाहिए। चौकीदार ही चोर-चोर चिल्ला रहे हैं। ऐसे में आम व्यक्ति को भ्रष्टाचार से आखिर कौन बचा सकता है।
उन्होंने कहा कि छह साल से लगातार भाजपा की सरकार है। भ्रष्टाचारियों को खोजना चाहिए। घर के ही भीतर भ्रष्टाचारियों को पकड़ने के लिए सत्तारूढ़ दल को साहस दिखाना होगा। इस अवधि में भाजपा के भ्रष्टाचार की कथा अनंत है।

दोषी ऐसे ही बचते रहेंगे तो कलंक लगेगा:
उन्होंने यह कहते हुए चेताया कि भ्रष्टाचार के नाम पर ऐसा वातावरण बनाने से बचना होगा, जिससे राज्य का मनोबल गिरे। जहां भ्रष्टाचार साबित हो चुका है, वहां दंड देने को सरकार के हाथ कांपने नहीं चाहिए। दिल्ली में उत्तराखंड की युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म मामले में आरोपितों के छूटने के मामले में उन्होंने कहा कि दोषी ऐसे ही बचते रहेंगे तो कलंक लगेगा।
वनंतरा रिसार्ट में महिला कर्मचारी की हत्या मामले में भी कई चिंताजनक पहलू हैं, इन्हें सरकार जानबूझकर नजरअंदाज कर रही है। महिला कर्मचारी ने जिस वीआइपी का जिक्र किया है, उसका अब तक पता नहीं चल सका है।

माहरा ऐसा वाहन बनाएं, जिसमें सब साथ दिखाई दें:
प्रदेश में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में उनके समेत बड़े नेताओं की अनुपस्थिति के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि पार्टी के सभी लोग अपने तरीके से पार्टी के कार्यों में व्यस्त हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि वह प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा को ऐसा बड़ा वाहन तैयार करने को कहेंगे, जिसमें सब एक साथ दिखाई दे सकें।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.