प्रदेश में मंगलवार को पिछले दो दिन के मुकाबले कोरोना संक्रमण के अधिक मामले सामने आए।



कोरोना संक्रमण से जूझ रहे 12 रोगियों को नहीं बचाया जा सका। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक मंगलवार को कोरोना पॉजिटिव के 632 मामले सामने आए। यह पिछले दो दिनों से अधिक हैं। कुल 436 रिकवर हुए हैं।

प्रदेश मेें अब कोरोना संक्रमण का ग्राफ बढ़ रहा है। कुल ठीक होने वालों की तुलना में संक्रमित मामले अधिक होने से स्वास्थ्य विभाग पर दबाव बढ़ेगा। प्रदेश में अब प्रतिदिन दस हजार से अधिक टेस्ट हो रहे हैं। मंगलवार को 12816 सैंपल भेजे गए।
वहीं अभी 15270 सैंपलों की अभी जांच होनी है। वहीं कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या भी 79141 पहुंच गई हैं। प्रदेश में अब तक 13.74 लाख सैंपल नेगेटिव आ चुके हैं। वहीं सक्रिय मामले 5399 हैं जबकि मरने वालों की संख्या 1307 हो गई है।

देहरादून, हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में अधिक मामले:

देहरादून में सक्रिय मामले सबसे अधिक हैं। मंगलवार तक यहां सक्रिय मामलों की संख्या 1850 आंकी गई। कोरोना के कारण मौत का आंकड़ा भी देहरादून (728) का ही प्रदेश में सबसे अधिक है। सक्रिय मामलों को देखने पर हरिद्वार 523 मामलों के साथ दूसरे और 488 मामलों के साथ नैनीताल तीसरे नंबर पर है। ऊधमसिंह नगर में सक्रिय मामले 284 हैं और यह चमोली जिले से कम हैं।

24 घंटों में कहां कितने संक्रमित मिले:
देहरादून में 279, नैनीताल में 92, हरिद्वार में 54, पिथौरागढ़ में 44, टिहरी में 30, ऊधमसिंह नगर में 27, अल्मोड़ा में 22, उत्तरकाशी में 18, चमोली में 17, पौड़ी में 15, बागेश्वर में 14, चंपावत में 11 और रुद्रप्रयाग में 9 लोग संक्रमित मिले हैं।

डीजी हेल्थ भी कोरोना संक्रमण की चपेट में:
कोरोना संक्रमण की चपेट में नेताओं, अधिकारियों के आने का सिलसिला जारी है। मंगलवार को डीजी हेल्थ अमिता उप्रेती भी कोविड पॉजिटिव पाई गईं। इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष, कुछ मंत्री सहित अन्य कई अधिकारी भी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं।

बागेश्वर के डीएम और सीडीओ कोरोना की चपेट में:
बागेश्वर जिले के डीएम और सीडीओ कोरोना की चपेट में आ गए हैं। सीएमओ डॉ. बीडी जोशी ने बताया कि डीएम विनीत कुमार और सीडीओ डीडी पंत की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मंगलवार सुबह दोनों अधिकारियों ने जिला अस्पताल में ट्रुनेट मशीन से जांच कराई थी। रिपोर्ट में दोनों अधिकारी कोरोना संक्रमित पाए गए।

‘कोरोना संक्रमण रोकने को बनाएं समन्वय’
स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने आगामी हरिद्वार कुंभ मेला तैयारियों और कोविड-19 से बचाव की व्यवस्थाओं को लेकर मंगलवार को जिलाधिकारी सी रविशंकर व अन्य अधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस की। उन्होंने कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए कुंभ मेला, जिला प्रशासन और पुलिस को समन्वय के साथ कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि कुंभ के दौरान संक्रमण बढ़ने की आशंका को देखते हुए अलग-अलग कार्ययोजना बनाई जा रही है।

स्वास्थ्य सचिव नेगी ने कहा कि कुंभ में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने, लोगों को जागरूक करने के लिए वालंटियर, होटल कर्मियों, आश्रम और धर्मशाला संचालकों को ट्रेनिंग दी जाए। कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत सरकार की गाइडलाइन का अनुपालन करवाया जाए।

जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि संक्रमण की रोकथाम के लिए अलग-अलग कार्ययोजना बनाई जा रही है। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने ग्राउंड वर्क तैयार कर लिया है। कुंभ के दौरान क्या स्थितियां होंगी, शासन के निर्णय को देखते हुए उसका पालन कराया जाएगा।

प्रथम फेज में 16 भवनों को कोविड केयर सेंटर बनाने के लिए चिह्नित किया जा चुका है। इसके संबंध में टेंडर प्रक्रिया चल रही है। इस दौरान सीएमओ डॉ. एसके झा समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।

स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने कहा कि कोरोना के संकट को देखते हुए पर्याप्त संख्या में कोविड केयर सेंटर बनाए जाएं। कोविड केयर सेंटर भीड़भाड़ और संकरी जगहों में बनाने से बचा जाए। छोटे कोविड केयर सेंटर की अपेक्षा अधिक क्षमता वाले भवनों, आश्रमों, धर्मशालाओं को कोविड केयर सेंटर के रूप में प्रयोग किया जाए।

वालंटियर्स को दिए जाएंगे आईडी कार्ड:
हरिद्वार जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि मेले के दौरान वालंटियर्स को जैकेट आईडी कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे। वालंटियर को समुचित ट्रेनिंग दी जाएगी। कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को वालंटियर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक कर सकेंगे। जिला प्रशासन कोविड-19 से जागरूकता संबंधी कार्यक्रम किए जा रहे हैं।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.