दाढ़ी बढ़ाने से कोई भी व्यक्ति नहीं बन जाता प्रधानमंत्री मोदी, मुख्‍यमंत्री धामी ने राहुल गांधी पर किया कटाक्ष

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा बढ़ाई गई दाढ़ी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि दाढ़ी बढ़ाने से कोई भी व्यक्ति प्रधानमंत्री नहीं बन जाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जैसा बनने के लिए तप एवं त्याग की जरूरत है, जो आरामदायक जीवन जीने वाला व्यक्ति कभी नहीं कर सकता।

एक कार्यक्रम में सीएम धामी ने की यह टिप्पणी:
शुक्रवार को नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री धामी ने यह टिप्पणी की, जिसे बाद में उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल से ट्वीट भी किया। कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा को एक खोखली यात्रा बताते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के लिए आप में देश का नेतृत्व करने की क्षमता होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री मोदी में है अनुशासन:
प्रधानमंत्री मोदी में अनुशासन है। उन्होंने देश एवं मां भारती की सेवा के लिए त्याग किया है, उनके पास संकल्प है। साथ ही उन्होंने आम जन की सेवा एवं अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति के उदय के लिए अपना जीवन पूरी तरह समर्पित किया है।
मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि हमारी पार्टी एवं संगठन के लिए प्रत्येक कार्यकर्त्‍ता एक समान है। उन्होंने कहा कि उनके एक युवा एवं कम उम्र के मुख्यमंत्री बनने के पीछे पार्टी के वरिष्ठ जनों का सहयोग एवं आशीर्वाद है।

गर्लफ्रेंड कल्चर से कांग्रेस का पुराना नाता: भाजपा
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा के भाजपा द्वारा पार्टी में अपने एजेंट छोडऩे के आरोप पर पलटवार करते हुए भाजपा ने इसे कांग्रेस संस्कृति का हिस्सा बताया है। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि भाजपा हमेशा सनातन परंपरा के अनुरूप महिला सम्मान का ध्यान रखती रही है। जहां तक कांग्रेस का सवाल है, उसके लिए यह नई बात नहीं है।
कांग्रेस में मंत्री तक खुलेआम यह कहते रहे हैं कि उनके चरित्र हनन के लिए षड्यंत्र रचे गए। पार्टी के कई नेताओं की संलिप्तता इस तरह के मामलों में सामने आई है। यह बात अलग है कि महिला सम्मान और उनके अधिकारों को लेकर कांग्रेसी खूब ढोल पीटती है।
चौहान ने कहा कि कांग्रेस को इस बात पर मंथन करने की जरूरत है कि वह अपनी नीति और नीयत से कमजोर हुई है। नकारात्मक और संकीर्ण मानसिकता के चलते ही उसे जनता ने दंडित किया और आज वह हाशिए पर चली गई। उन्होंने कहा कि कांग्रेस संवेदनशील मुद्दों पर भी राजनीति और पीडि़तों के स्वजन की भावनाओं से खिलवाड़ कर रही है। वनंतरा रिसार्ट प्रकरण हो या केदार भंडारी प्रकरण, कानून अपना कार्य कर रहा है, लेकिन कांग्रेस इसे अवसर के रूप में देख रही है।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.