Big breaking :-सीएम धामी का बहुत बड़ा बयान, सरकार करने वाली हैं ये बड़ा काम.

उत्तराखंड में चार धाम यात्रा को लेकर इन दोनों साधु संतों की यात्रा को लेकर गैर हिंदुओं के प्रवेश वर्जित किए जाएं की मांग लगातार बढ़ रही है। हरिद्वार की धर्म संसद से लेकर कई संतों ने चार धाम क्षेत्रों में गैर हिंदुओं के प्रवेश को प्रतिबंधित करने की सरकार से मांग की है। इस मामले पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का कहना है कि राज्य में कोई भी ऐसे क्षेत्र जहां पर बिना वेरिफिकेशन के लोग पाए जा रहे हैं उनके खिलाफ कार्रवाई हो रही है बकायदा इसके लिए ड्राइव भी चलाया जा रहा है उत्तराखंड की सांस्कृतिक और आध्यात्मिक छवि पर किसी तरह का कोई नुकसान ना हो और इसकी अपनी महत्ता बनी रहे इस पर सरकार काम कर रही है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दोबारा से प्रदेश की सत्ता संभालने के बाद एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं मुख्यमंत्री ने जहां पहले शिक्षा विभाग के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की वही मुख्यमंत्री ने आप कॉर्बेट नेशनल पार्क के डायरेक्टर के खिलाफ भी एक्शन लिया है मुख्यमंत्री ने कहा है कि अधिकारियों को पहले ही निर्देशित किया जा चुका है कि काम में गुणवत्ता नजर आनी चाहिए और किसी भी काम को लटकाने की मंशा से कार्य न करें कहीं भी अगर कमी पाई जाएगी तो एक्शन सख्त लिया जाएगा

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुलडोजर की कार्रवाई के चलते बुलडोजर बाबा कहलाते हैं तो उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी इन दिनों बुलडोजर दाज्यु कहलाने लगे है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी अतिक्रमण को लेकर कई कार्यवाही कर रहे हैं इस मामले पर मुख्यमंत्री से जब पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जहां भी इनलीगल कब्जे किए गए हैं वहां कार्रवाई की जा रही है किसी भी तरह की कार्रवाई पर अगर कोई कानून को हाथ में लेकर कदम उठाता है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई होगी आपको बता दें कि हल्द्वानी और हरिद्वार जनपद में कई जगह अतिक्रमण को लेकर सख्त कार्रवाई की गई है


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.