आज से सभी सरकारी कार्यालय खुल गए हैं।

प्रदेश में आज से सभी सरकारी कार्यालय खुल गए हैं। जिनमें समूह क और ख के कार्मिकों की शत प्रतिशत उपस्थिति रहेगी। जबकि समूह ग और घ के आवश्यक सेवाओं से संबंधित कर्मचारियों को छोड़कर अन्य की रोटेशन के आधार पर 50 फीसदी उपस्थिति के आधार पर ड्यूटी लगाई जाएगी।

बुधवार को शासन की ओर से पहले एक मई तक सरकारी कार्यालयों को बंद रखने का आदेश जारी किया गया, लेकिन कुछ देर बाद ही उक्त आदेश को निरस्त कर नया आदेश जारी कर दिया गया।

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए पिछले छह दिनों से समस्त सरकारी कार्यालय बंद हैं। सरकार की ओर से पहले सभी कार्यालयों को 23 से 25 अप्रैल तक बंद रखने के आदेश जारी किए गए थे। बाद में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सरकारी कार्यालय बंद रखने की अवधि को 28 अप्रैल तक बढ़ा दिया था। लेकिन शासन की ओर से अब बृहस्पतिवार से सभी कार्यालय खोले जाने का आदेश जारी किया गया है।

सचिव डॉ.पंकज कुमार पांडेय की ओर से जारी आदेश में ऐसी महिला कर्मचारी जिनके बच्चे दस साल से छोटे हैं, गर्भवती महिला कर्मचारी, 55 साल से अधिक उम्र के कर्मचारी एवं गंभीर बीमार कर्मचारियों के बारे में कहा गया है कि ऐसे कर्मचारी घर से ही काम करेंगे। अपरिहार्य स्थिति में ही इन कर्मचारियों को कार्यालय बुलाया जा सकेगा।

इसके अलावा दिव्यांग कर्मचारियों को भी कार्यालय में उपस्थिति से छूट है। हालांकि शासकीयहित में आवश्यकता पड़ने पर किसी भी कर्मचारी को कार्यालय बुलाया जा सकता है। आदेश में बैठकों के बारे में कहा गया है कि जहां तक संभव हो वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठकें की जाएं।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.