प्रदेश में नीट यूजी की राज्य काउंसलिंग 6 नवंबर से शुरू होने जा रही है।



इसके लिए हेमवती नंदन बहुगुणा उत्तराखंड मेडिकल शिक्षा विश्वविद्यालय द्वारा काउंसलिंग के पहले चरण का शेड्यूल बुधवार को जारी कर दिया है। 6 से 10 नवंबर तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन होंगे।

कुलपति डॉ. हेमचंद्र पांडे ने बताया कि काउंसलिंग की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। 6 से 10 तारीख के बीच रजिस्ट्रेशन के साथ ही फीस जमा व च्वॉइस भरनी भी होगी। पहले चरण की काउंसलिंग 18 तारीख को खत्म होगी। इसमें अभ्यर्थियों को अलॉटेड कॉलेज में एडमिशन लेना अनिवार्य है। द्वितीय चरण व मॉपअप, स्ट्रे वेकेंसी राउंड का शेड्यूल जल्द जारी किया जाएगा। काउंसलिंग  शुल्क 3000 रुपये है। अभ्यर्थी hnbumu.ac.in पर लॉगइन कर सकते हैं।

राज्य कोटे में शर्तें:
राज्य कोटे की सीट के लिए शर्त है कि अभ्यर्थी ने उत्तराखंड से 10वीं व 22वीं पास की हो। उत्तराखंड के मूल निवासियों को भी वरीयता मिलेगी। ऑल इंडिया-मैनेजमेंट कोटा के लिए किसी भी राज्य के अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं।

कॉलेजों में अलॉट सीटें:
सरकारी कॉलेज :
दून मेडिकल कॉलेज – 175
हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज – 125
श्रीनगर मेडिकल कॉलेज – 125

निजी कॉलेज :
एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज – 150
एचआईएमएस जौलीग्रांट – 150
सीमा डेंटल कॉलेज ऋषिकेश – 100
(नोट : स्टेट कोटा व ऑल इंडिया-मैनेजमेंट कोटा से 50-50 प्रतिशत सीटें)

काउंसिलिंग शेड्यूल (पहले चरण)
-ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, फीस जमा, च्वॉइस भरना :: 6 नवंबर (दोपहर 1 बजे) से 10 नवंबर (रात 8 बजे)
राज्य मेरिट लिस्ट जारी : 11 नवंबर (दोपहर 2 बजे के बाद)
सीट अलॉटमेंट : 13 नवंबर
एडमिशन की अंतिम तारीख : 18 नवंबर

ये होगी फीस:
सरकारी मेडिकल कॉलेज : में बॉन्ड में साढ़े 4 लाख रुपये फीस वार्षिक देनी होगी। सिर्फ श्रीनगर कॉलेज में 4 लाख बिना बॉन्ड व 50 हजार रुपये बॉन्ड में देने होंगे। बॉन्ड की शर्त सिर्फ श्रीनगर कॉलेज में है।

निजी कॉलेज:
एसजीआर मेडिकल कॉलेज : राज्य कोटा में 9 लाख 78 हजार व मैनेजमेंट कोटे की सीट में 13 लाख 22 हजार रुपये वार्षिक।
एचआईएमएस जौलीग्रांट : राज्य कोटे में 13 लाख 32 हजार रुपये व मैनेजमेंट कोटा सीट में 18 लाख रुपये वार्षिक।
सीमा डेंटल कॉलेज : 2 लाख 15 हजार रुपये वार्षिक

पहले चरण के बाद सिक्योरिटी मनी नहीं मिलेगी:
परीक्षा नियंत्रक प्रो. विजय जुयाल ने बताया कि पहले चरण में सरकारी कोटे की सीट पर 10 हजार व ऑल इंडिया मैनेजमेंट कोटे की सीट पर 1 लाख रुपये सिक्योरिटी मनी भी पड़ेगी। अगर कोई अभ्यर्थी पहले चरण में सीट आवंटित होने पर दाखिला लेने के बाद सीट छोड़ना चाहते हैं तो उन्हें सिक्योरिटी मनी वापस कर दी जाएगी। पहले राउंड के बाद सिक्योरिटी मनी वापस नहीं होगी। साथ ही अगर किसी अभ्यर्थी ने काउंसलिंग में आवंटित सीट पर अंतिम तारीख तक एडमिशन नहीं लिया तो उनकी सिक्योरिटी रिफंड नहीं होगी। ऐसे में अभ्यर्थी को मॉपअप चरण में शामिल होने के लिए दोबारा रजिस्ट्रेशन व सिक्योरिटी मनी जमा करानी होगी।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.