आज बेरोजगारों के समर्थन में नंगे पांव पदयात्रा करेंगे हरीश रावत , कहा- ‘भर्तियों के नाम पर ठगे जा रहे युवा’

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत मंगलवार को युवा बेरोजगारों के प्रति एकजुटता व समर्थन में नंगे पांव डिस्पेंसरी रोड स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा से गांधी पार्क में पंडित जवाहरलाल नेहरू की प्रतिमा तक पदयात्रा करेंगे। सोमवार को प्रेस को बयान जारी कर पूर्व मुख्यमंत्री ने यह बात कही है।
हरीश रावत ने कहा कि बेरोजगारी बढ़ती जा रही है। उत्तराखंड में सर्वाधिक बेरोजगारी है, यहां भर्तियों के नाम पर नौजवानों को ठगा जा रहा है। युवाओं को कभी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग, कभी विधानसभा तो कभी लोकसेवा आयोग के झमेले झेलने पड़ रहे हैं।
पिछले छह साल से लोक सेवा आयोग की भर्तियां रुकी पड़ी हैं। अधियाचन जाने के बाद भी पद वापस ले लिए जाते हैं। जिन युवाओं ने किसी भी क्षेत्र में डिप्लोमा किया, वह खाली घूम रहे हैं। नौकरी के लिए धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। राज्य के अंदर बेहद गंभीर स्थिति बनी है।
बेरोजगारों के प्रति अपनी भावनात्मक एकता प्रकट करने के लिए वह मंगलवार को दोपहर बाद तीन बजे डिस्पेंसरी रोड से गांधी पार्क तक नंगेपांव पदयात्रा करेंगे। उन्होंने खेद जताते हुए कहा कि वह कांग्रेसजनों से इसकी अनुमति नहीं ले पाए हैं।

पहाड़ी उत्पादों की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हो पहचान : हरदा
वहीं सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि सरकार को पहाड़ी उत्पादों को बढ़ावा देने के साथ ही उनकी ब्रांडिंग भी करनी चाहिए, जिससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बन सके।
सोमवार को पूर्व सीएम हरीश रावत ने राजपुर स्थित अपने आवास में नव वर्ष पर उत्तराखंड के स्थानीय उत्पाद व व्यंजनों को समर्पित मंडुवा वर्ष 2023 कार्यक्रम आयोजित किया। इस दौरान उन्होंने पहाड़ी उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए मंडुवा वर्ष मनाने का संकल्प लिया।
बाजरा, झंगोरा, भटवाणी, कंडाली का साग, भांग की चटनी का स्वाद लेने के साथ ही उन्होंने सरकार पर एक तीर से कई निशाने साधे। उन्होंने बीते दिनों भारतीय क्रिकेटर टीम के विकेटकीपर व बल्लेबाज रिषभ पंत के सड़क दुर्घटना में घायल होने पर दुख व्यक्त किया। साथ ही उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। वहीं प्रदेश में सड़क की खराब हालत पर भी सवाल खड़े किए।
आरोप लगाया कि कांग्रेस ने सत्ता में रहकर बेहतर सड़क बनाने का काम किया, लेकिन वर्तमान सरकार ने उन सड़कों के सुधारीकरण करने के बजाय निर्माण कार्यों में खानापूर्ति की। उन्होंने मशरूम गर्ल दिव्या रावत और प्यारी पहाड़न प्रीति मैदोलिया के कार्य की सराहना की।
इस मौके पर पूर्व आइएएस एसएस पांगती, हरिद्वार ग्रामीण विधायक अनुपमा रावत, पूर्व अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष अशोक वर्मा, हीरा सिंह बिष्ट, मंत्री प्रसाद नैथानी, अभिषेक भंडारी, आशा टम्टा, उर्मिला थापा, आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा, सुशील राठी, शांति रावत, विनोद चौहान, पृथ्वीपाल चौहान आदि मौजूद रहे।

दिग्गज रहे गायब:
मंडुवा वर्ष कार्यक्रम में जहां बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं ने हिस्सा लिया, वहीं कांग्रेस के खांटी नेता कार्यक्रम में नजर नहीं आए। पत्रकारों के सवाल पूछने पर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सफाई देते हुए कहा कि कार्यक्रम में खास व्यक्तियों को ही निमंत्रण दिया गया था। इसमें राजनीति करने का मकसद नहीं है।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -


👉 सच की आवाज  के समाचार ग्रुप (WhatsApp) से जुड़ें

👉 सच की आवाज  से टेलीग्राम (Telegram) पर जुड़ें

👉 सच की आवाज  के फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 गूगल न्यूज़ ऐप पर फॉलो करें


अपने क्षेत्र की ख़बरें पाने के लिए हमारी इन वैबसाइट्स से भी जुड़ें -


👉 www.sachkiawaj.com


Leave a Reply

Your email address will not be published.